WhatsApp Image 2022-06-30 at 3.30.44 PM (3)

MP News : मिलिये भारत के सबसे बड़े लाइन प्रोड्यूसर भोपाल के सैयद ज़ैद अली से

मनोरंजन, मुख्य समाचार

Updated: 15 july 2022,

cannes-film-festival

फ़्रांस में कान्स के 75वें फिल्म महोत्सव की जूरी में भारतीय फिल्मी सितारों के साथ-साथ फिल्मों का भी काफी बोलबाला रहा है.इस साल के महोत्सव में भारत (India in Cannes 2022) एक नई ऊर्जा, शक्ति और ताकत के साथ उबरा है। भारत की आजादी को इस साल 75 वर्ष पूरे हो जाएंगे, ऐसे में आजादी का अमृत महोत्सव मना रही भारतीय सरकार ने भारतीय सिनेमा को भी विश्व पटल तक पहुंचाने के फैसला किया है। इस साल ‘कांस फिल्म फेस्टिवल’ में भारत की ओर से 6 फिल्में प्रदर्शित हुई। इनमें तमिल, मराठी, मलयालम और हिंदी भाषी फिल्में और डॉक्यूमेंट्रीज शामिल हैं। खास बात ये रही कि इस साल खुद केंद्रीय सूचना और प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर (Anurag Thakur Cannes 2022) मौजूद रहे । उन्होंने ए आर रहमान, शेखर कपूर, नवाजुद्दीन सिद्दिकी के साथ कांस रेड कार्पेट पर वॉक किया। ये भी अपने आप में एक ऐतिहासिक मौका है जब भारत की ओर से किसी राजनेता ने कांस में वॉक किया। इस प्रतिष्ठित फिल्म फेस्टिवल में ना सिर्फ़ भारत बल्कि मध्य प्रदेश को रिप्रेजेंट किया भारत के सबसे बड़े लाइन प्रोड्यूसर सैयद ज़ैद अली ने । प्रस्तुत है उनसे की गई बातचीत के कुछ अंश:-

प्रश्न: कान्स फिल्म फेस्टिवल 2022 मैं आपको एंट्री कैसे मिली ?

सैयद ज़ैद अली: भारत और कान्स के रिश्तो का यह 75 वां वर्ष था इसलिए मुझे कान्स ऑफिशियल की तरफ से इनवाइट किया गया था और वहां जाकर मुझे पता लगा की मैं भारत में सबसे ज्यादा प्रोडक्शन करने वाला लाइन प्रोड्यूसर हूं । मैंने विगत 14 वर्ष में 350 सौ से ज्यादा प्रोडक्शन किए हैं और सेकंड हाईएस्ट 250 के आसपास है।

WhatsApp Image 2022-06-30 at 3.30.44 PM

प्रश्न: कान्स फिल्म फेस्टिवल का आपका अनुभव कैसा रहा ?

सैयद ज़ैद अली: लगभग 100 से भी ज्यादा देशों के सिनेमा प्रतिनिधि वहां पर थे। उनके बीच में भारत को रिप्रेजेंट करना गौरव की बात है। भारत अकेला ऐसा देश है जहां से हिंदी के अलावा अन्य भाषाओं की सिनेमा भी वहां प्रदर्शित की जाती है । वहां पर मुझे मेरे फेवरेट हॉलीवुड एक्टर टॉम क्रूज ,दीपिका पादुकोण, ऐश्वर्या राय ,प्रसून जोशी, सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर और केंद्रीय मंत्री मीनाक्षी लेखी से भी मिलने का अवसर प्राप्त हुआ।

प्रश्न: कान्स फिल्म फेस्टिवल बाकी अन्य फिल्म फेस्टिवल से कैसे अलग है ?

सैयद ज़ैद अली: अमेरिका और टोरंटो फिल्म फेस्टिवल के साथ में कान्स फिल्म फेस्टिवल दुनिया के टॉप 3 फिल्म फेस्टिवल्स में आता है और यह 75 वर्षों से भी ज्यादा पुराना है।

प्रश्न: भारत के गोवा फिल्म फेस्टिवल को वहाँ किस तरह से देखा जाता है ?

सैयद ज़ैद अली: भारत का गोवा फिल्म फेस्टिवल भी दुनिया में धीरे-धीरे मशहूर हो रहा है लेकिन क्योंकि अभी इसको शुरू हुए ज्यादा समय नहीं हुआ है इसलिए यह दुनिया के टॉप फिल्म फेस्टिवल्स में नहीं आता । जब कान्स में दीपिका पादुकोण से यह सवाल पूछा गया कि क्या गोवा फिल्म फेस्टिवल भारत का कान फिल्म फेस्टिवल बनेगा तो उनका जवाब था हम भारत की पहचान है और हम गोवा फिल्म फेस्टिवल के नाम से ही जाने जाना चाहते हे ।

प्रश्न: बाहर के देशों में भारतीय फिल्मों को किस तरह से लिया जाता है ?

सैयद ज़ैद अली: प्रोडक्शन के हिसाब से भारत दुनिया में नंबर वन है एडमिशन यानी देखने वालों की संख्या के हिसाब से नंबर फोर्थ पर हम हैं और रिवेन्यू कलेक्शन की बात करें तो हमारा नंबर दुनिया में सातवां है। ऐसे में बाहर के मुल्कों में खासकर यूरोपीयन कंट्रीज में भारतीय सिनेमा की बहुत इज्जत है । वहां पर तकरीबन सभी लोग अमिताभ बच्चन और शाहरुख खान को जानते हैं और पेरिस में तो मुझसे एक कॉफी शॉप में इसलिए पैसे नहीं लिए गए क्योंकि मैं भारतीय फिल्म इंडस्ट्री से बिलॉन्ग करता हूं।

प्रश्न: अमिताभ बच्चन के अलावा किस भारतीय फिल्म स्टार का  दुनिया भर में क्रेज़ है ?WhatsApp Image 2022-06-30 at 3.30.44 PM (1)

सैयद ज़ैद अली: निश्चित तौर पर अमिताभ जी के बाद शाहरुख खान दुनिया में सबसे ज्यादा पॉपुलर है और गल्फ कंट्रीज में शाहरुख के बाद सलमान खान की दीवानगी दिखती है इसके पीछे कारण यह है कि इन दोनों सितारों ने लगभग 3 पीढ़ियों को कैटर किया हुआ है । मेरे पिताजी मैं और मेरे बच्चे इनके फैन हो सकते हैं।

प्रश्न: कान फिल्म फेस्टिवल 2022 में भारत ने क्या खोया और क्या पाया ?

सैयद ज़ैद अली:  यह बहुत बड़ी विडंबना है की ग्लोबल फिल्म प्रोडक्शन का एक परसेंट शेयर भी हमको नहीं मिलता । भारत एकमात्र ऐसा देश है जहां बर्फ के पहाड़ हैं, तपते रेगिस्तान है और शानदार समुद्री बीच है फिर भी हमको उतनी इंटरनेशनल फिल्में प्रोडक्शन के लिए नहीं मिलती । मैं इस बार दो फ्रेंच और एक इजराइली फिल्म को भारत लाने में कामयाब रहा।

प्रश्न: इस बार भारत ने  ‘फिल्म वीजा’ की भी घोषणा की यह क्या है ?

सैयद ज़ैद अली:  देखिए जो भी अंतरराष्ट्रीय फिल्म मेकर इंडिया आते थे उनको यह शिकायत होती थी कि हम चोरों की तरह भारत क्यों आए ? वह लोग अक्सर बिजनेस या  टूरिस्ट विजा पर यहा शूटिंग करने आते थे। जबकि जब भारत के फिल्म मेकर  विदेशों में शूट करने जाते हैं तो उनको उन देशों की तरफ से ‘फिल्म वीजा’ मिलता है।  इसीलिए इस बार केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर जी ने भी अंतरराष्ट्रीय फिल्म निर्माताओं को भारत में शूटिंग करने के लिए फिल्म वीजा प्रदान करने की घोषणा की।

प्रश्न: इस पूरे फिल्म फेस्टिवल के दौरान आपका सबसे यादगार पल ?WhatsApp Image 2022-06-30 at 3.30.44 PM (5)

सैयद ज़ैद अली: लगभग मैं बचपन से ही टॉम क्रूज का पहन रहा हूं और जब मैंने उनके साथ एक ही थिएटर में उनकी फिल्म Top Gun: Maverick का वर्ल्ड प्रीमियर देखा तो उस वक्त में सातवें आसमान पर था।

Leave a Reply