shayari-new-year-wishes-mplive

जानिए कैसे करे नए साल 2020 का स्वागत कुछ शायराना अंदाज़ में

मुख्य समाचार, रिलेशनशिप, लाइफस्टाइल

Updated: 31 दिसम्बर, 2019 ,

 

नई दिल्ली:  Happy New Year 2020 Shayari: नए साल का मौका है और हर कोई आपको अपने खास अंदाज़ में नव वर्ष की बधाई (New Year) देगा. मैसेज के जरिए या फिर खास फोन कॉल के जरिए, आपको नए साल की शुभकामनाएं (Happy New Year) दी जाएंगी. लेकिन आप नए साल 2020 का स्वागत कुछ शायराना अंदाज़ में करें और सभी को यहां दी जा रही एक से बढ़कर एक शानदार शायरी से साल 2020 की बधाई (New Year 2020 Shayari) दें. इन शायरी को आप मैसेज के जरिए भी भेज सकते हैं और खुद अपने मोबाइल पर स्टेटस की तरह भी लगा सकते हैं. लेकिन अगर किसी खास के नया साल को और भी खास बनाना चाहते हों तो यहां से शायरी पढ़कर खुद की आवाज़ में वॉयस मैसेजेस भी भेज सकते हैं.

New Year 2020: दोस्तों और परिवार को इन मैसेजेस से दें नए साल की बधाई

New Year Shayari 2020

पहली मुलाकात में हुआ कुछ एहसास
उनकी मोहब्बत के दो लफ्ज़ थे बहुत ख़ास
आखिरी मुलाकात में कुछ तो कहना था उनसे
हम सोचते ही रह गए और गुज़र गया साल

ज़िन्दगी का फलसफा भी कितना अजीब है
शामें कटती नहीं और साल गुज़रते चले जा रहे हैं

जो गुज़रे साल हुआ इस साल ना हो
उनका इकरार हो इनकार ना हो
मेरी बाहों में उनकी बाहें हो
खुदा कुछ ऐसा ही नया साल हो

सालों बाद उनसे मिलने का समां कैसा होगा
मैं याद भी हूं उसे या वो भूल चुका होगा
इस जनम ना सही, मिलेंगे फिर किसी जनम में
जैसे गुल से गुल मिले हों एक प्यार भरे चमन में

मिजाज मस्ती का, खुशहाल नया लाया है
सुहाने ख्वाब का कमाल नया लाया है
दिलों की ख्वाहिशों को और हवा दे देना
तुम्हारे वास्ते यह साल नया आया है

आज इक और बरस बीत गया उस के बग़ैर
जिस के होते हुए होते थे ज़माने मेरे

अब के बार मिल के यूं साल-ए-नौ मनाएंगे
रंजिशें भुला कर हम नफ़रतें मिटाएंगे

उम्र का एक और साल गया
वक़्त फिर हम पे ख़ाक डाल गया

इक अजनबी के हाथ में दे कर हमारा हाथ
लो साथ छोड़ने लगा आख़िर ये साल भी

एक साल गया, एक साल नया है आने को
पर वक्त का अब भी होश नहीं दीवाने को

 

नये साल की सुबह के साथ
आपकी जिंदगी भी उजालों
से भर जाये यही दुआ करेंगे
नया वर्ष आपको और आपके परिवार को मुबारक हो

चारों तरफ हो खुशियां ही खुशियां,
मीठी पूरनपोली और गुजियां ही गुजियां
द्वारे सजती सुंदर रंगोली की सौगात
आसमान में हर तरफ पतंगों की बारात
सभी का शुभ हो नव वर्ष हर बार

ये साल अगर इतनी मोहलत दिलवा जाए तो अच्छा हैं
ये साल अगर हमको हमसे मिलवा जाए तो अच्छा हैं
चाहे दिल की बंजर धरती सागर भर आंसू पी जाए
ये साल मगर कुछ फूल नए खिलवा जाए तो अच्छा हैं

शाखों पर सजता नये पत्तों का श्रृंगार
मीठे पकवानों की होती चारों तरफ बहार
मीठी बोली से करते, सब एक दूजे का दीदार
खुशियों के साथ चलो मनाये नव वर्ष इस बार

देखो नूतन वर्ष हैं आया
धरा पुलकित हुई गगन मुस्काया
किंचित चिंताओं में डूबा कल
ढूंढ ही लेगा नया वर्ष कोई हल
देखो नए साल का पहला पल
क्षितिज के उस पार हैं उभर आया

ये साल हमारी किस्मत को कुछ नए ढंग से आंकेगा
ये साल हमारी हिम्मत में कुछ नए सितारे टांकेगा
इस साल अगर हम अंदर से दुख की बदली को हटा सके
तो मुमकिन हैं इसी साल हम सबमें सूरज झांकेगा

एक खूबसूरती, एक ताज़गी
एक सपना, एक सच्चाई
एक कल्पना, एक एहसास
एक आस्था, एक विश्वास
यही है एक अच्छे साल की शुरुआत

नयी उम्मीदों से भरा यह नया साल मुबारक हो
खुशी की मस्तियों के यह चाल मुबारक हो
तुम्हारे ख्वाब सभी इस बरस में पूरे हो
दुआएं दिल से तुम्हे, यह साल मुबारक हो

आई हैं बहारे, नाचे हम और तुम

पास आए खुशिया और दूर जाए गम
चारों तरफ नव बरस की खुशियां हैं छाई
नव वर्ष 2020 की बहुत बहुत बधाई

गुलों की शाख से खुशबू चुरा के लाया हैं
गगन के पांव से घुंघरू चुरा के लाया हैं
थिरकते कदमों से आया है आज नया साल
जो की तुम्हारे वास्ते खुशियां चुरा के लाया है

Leave a Reply