Health Live : गहरी नींद में अचानक आपको भी लग जाता है डर, क्यों महसूस होने लगते हैं झटके ?

मुख्य समाचार, लाइफस्टाइल, स्वास्थ्य

LAST UPDATED : 

What is Hypnic Jerks: जब हम गहरी नींद में होते हैं तो कई बार ऐसा लगता है जैसे हम सोते-सोते गिरने वाले हैं. ऐसा लगता है कि अचानक झटके जैसा महसूस हो रहा है और लगता है कि हम नीचे गिरते जा रहे हैं. कई बार नींद में ऐसा लगता है कि किसी ने धक्का दिया है, या फिर कहीं ऊंचाई से नीचे गिर गए हैं. क्या आपको पता है कि ऐसा क्यों होता है और इसकी वजहें क्या है? क्या ये कोई बीमारी है या फिर सामान्य बात है. दरअसल, यह एक बीमारी है. इसे मेडिकल टर्म में समझे तो इसे हाइपनिक जर्क (hypnic jerks) कहा जाता है. इसके कई कारण हो सकते हैं. शरीर में पोषक तत्वों की कमी के कारण भी ऐसा हो सकता है. इस समस्या को स्लीप स्टार्ट या स्लीप ट्विच भी कहा जाता है.

क्या है हाइपनिक जर्क
जब गहरी नींद में एकदम से शरीर को झटके का सामना करना पड़े तो इसे हाइपनिक जर्क कहते है. बहुत सारे लोगों में ही देखा गया है. डायटोफाई सॉल्यूशंस की डायटीशियन डॉ. कनिका खन्ना कहती हैं कि सोने के दौरान मसल्स में होने वाले संकुचन के कारण हाइपनिक जर्क का सामना करना पड़ता है. इसमें कई बार इंसान को ऐसा लगता है कि वह किसी ऊंचाई से गिर रहा है या उसे झटका लग रहा है. इसके चलते कई बार तेज हार्टबीट का सामना करना पड़ता है. हाइपरनिक जर्क किसी भी उम्र में हो सकता है.

क्या हैं इसके कारण
डॉ. कनिका खन्ना कहती हैं कि आमतौर पर बहुत ज्यादा थकान, नींद पूरी नहीं हो पाना, कैफीन, ड्रग, निकोटीन का ज्यादा प्रभाव, एंग्जाइटी, बेचैनी, तनाव आदि की वजह से हाइपनिक जर्क का सामना कर पड़ सकता है. हालांकि पोषक तत्वों की कमी भी इसकी बड़ी वजह हो सकती है. शरीर में मैग्नीशियम की कमी से भी हाइपनिक जर्क हो सकता है. वहीं विटामिन बी 12 की कमी भी इसका एक कारण हो सकता है.

कैसे पाएं निजात
डॉ. कनिका खन्ना कहती हैं कि हाइपनिक जर्क से बचने के लिए शरीर को हाइड्रेट रखना बहुत जरूरी है. वहीं मैग्नीशियम और विटामिन 12 की खुराक शरीर में पर्याप्त मात्रा में होनी चाहिए. इसके साथ ही आप कॉफी और ड्रग का इस्तेमाल न करें. डाइटिशियन राशि चहल ने कहा हाइपनिक जर्क से बचने के लिए हमें कुछ चीजों का बहुत खास ख्याल रखना चाहिए. हमें यह देखना चाहिए कि हमारे शरीर में विटामिन और मिनरल की कमी ना हो. क्योंकि इसी वजह से हमें स्ट्रेस और एंग्जाइटी हो सकती है. हमें रेगुलर एक्सरसाइज करनी चाहिए.

हेल्दी डाइट जरूरी
डायटीशियन कनिका खन्ना ने बताया की रात में हल्के से झटके नींद में आ जाते हैं कई बार नींद डिस्टर्ब होती है तो यह कंडीशन नॉर्मल है इसमें घबराने की जरूरत नहीं है लेकिन अगर यह बार-बार हो रहा है तो कुछ चीजों पर आपको ध्यान देने की जरूरत है. कई बार ऐसा होता है कि आप स्ट्रेस में होते है नींद पूरी नहीं हो रही है. यह बॉडी में न्यूट्रिशन डिफिशिएंसी है. इसके लिए आपको योगा मेडिटेशन करना चाहिए. स्ट्रेस से दूर रहना है ताकि ऑक्सीजन की मात्रा आपकी बॉडी में भरपूर रूप में जाए न्यूट्रिशन डिफिशिएंसी आपको बचाना है और अच्छी डाइट लेनी है. हरी पत्तीदार सब्जियों और साबुत अनाज का सेवन करना फायदेमंद रहेगा.

Leave a Reply