शिवराज सिंह चौहान के दावों पर कांग्रेस की मुहर! ‘लाड़ली बहना योजना’ को माना अपनी हार का कारण

प्रदेश, मध्य प्रदेश, मुख्य समाचार

Updated at : 08 Jul 2024,

Madhya Pradesh News: मध्य प्रदेश में पांच महीने पहले संपन्न हुए विधानसभा चुनाव में बीजेपी को बंपर जीत मिली थी. इस चुनाव में बीजेपी को 163 सीटें, जबकि कांग्रेस को महज 66 सीटों से संतोष करना पड़ा था. विधानसभा का यह चुनाव तत्कालीन मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में लड़ा गया था.

इस चुनाव में मतदान के बाद तत्कालीन सीएम शिवराज सिंह चौहान ने दावा किया था कि मेरी लाड़ली बहनों ने सभी कांटे निकाल दिए हैं. इस चुनाव में बीजेपी को बंपर जीत मिली. तत्कालीन सीएम शिवराज सिंह चौहान के इस दावे पर अब कांग्रेस ने भी मुहर लगा दी है. राजधानी भोपाल में शुरू हुई कांग्रेस की दो दिवसीय मंथन बैठक के पहले दिन शनिवार को कांग्रेस नेताओं ने कहा कि “लाड़ली बहना योजना” से नुकसान हुआ है.

फैक्ट फाइंडिंग कमेटी की बैठक में प्रदेश प्रभारी जितेन्द्र सिंह, प्रदेश अध्यक्ष जीतू पटवारी, नेता प्रतिपक्ष उमंग सिंघार सहित अनेक नेता शामिल हुए. फैक्ट फाइडिंग की बैठक के बाद प्रदेश प्रभारी जितेन्द्र सिंह ने विधानसभा चुनाव में हारे प्रत्याशी और जीते हुए विधायकों से भी चर्चा की. वन टू वन चर्चा का यह दौर देर शाम तक जारी रहा.

कांग्रेस ने लाड़ली बहनों को माना हार का कारण
बैठक के दौरान कांग्रेस के ज्यादातर नेताओं ने लाड़ली बहना योजना को ही अपनी हार का कारण बताया है. नेताओं का कहना है कि बीजेपी ने चुनाव से ठीक पहले लाड़ली बहना योजना शुरू की और प्रदेश की एक करोड़ 31 लाख लाड़ली बहनों के खातों में राशि जारी की. लाड़ली बहना योजना ही हार का कारण बनी है.

पहले विधानसभा और बाद में लोकसभा चुनाव में मिली हार के बाद अब कांग्रेस नए सिरे से रणनीति बनाने पर मंथन कर रही है. दो दिवसीय बैठक के दौरान आगामी रणनीति को लेकर विचार विमर्श किया जाएगा. कांग्रेस की दो दिवसीय मंथन बैठक का आज दूसरा दिन है.

 

Leave a Reply