MP को जल्द मिलेगी वंदे मेट्रो की सौगात, देवास-इंदौर-उज्जैन से बेहतर होगी कनेक्टिविटी

प्रदेश, मध्य प्रदेश, मुख्य समाचार

Last Updated: Jul 07, 2024,

Madhya Pradesh News: मध्य प्रदेश को जल्द ही वंदे मेट्रो ट्रेन की सौगात मिलने जा रही है. यह ऐलान खुद मुख्यमंत्री मोहन यादव ने उज्जैन में किया. शनिवार को उज्जैन को कई विकास कार्यों की सौगात देने के साथ वंदे मेट्रो चलाने का भी ऐलान किया. यह वंदे मेट्रो देवा, इंदौर, उज्जैन और पीथमपुर को जोड़ेगी. इससे पहले लोकल यात्रियों के साथ-साथ बाहर से महाकाल दर्शन के लिए आने वाले शिव भक्तों को भी इसका लाभ होगा. सीएम ने बताया कि इस प्रोजेक्ट के लिए रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव से भी चर्चा हो चुकी है.

सीएम यादव ने कहा कि उज्जैन के लिए एक बाईपास ट्रेक बनाया जाएगा. उज्जैन में चरणबद्ध तरीके से विकास कार्य किए जाएंगे. उज्जैन चिंतामन मंदिर मार्ग फोर लेन रोड बनाया जाएगा. उज्जैन में रेल वायपास होगा. इससे चिंतामन से आने वाली गाड़ी उज्जैन रेलवे स्टेशन पर आने के बजाय सीधे नागदा जा सकेंगी. इसी तरह नागदा में बायपास बनाया जाएगा, जिससे दिल्ली से आने वाली ट्रेनें सीधे उज्जैन आ सकेंगी. इसके लिए रेल मंत्री से बात हो गई है.

क्या बोले मोहन यादव
मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर कहा कि इस बार राज्य का बजट पिछले वर्ष के बजट की तुलना में 16 प्रतिशत अधिक है. इस बार का बजट विकासोन्मुखी, प्रदेश को आगे बढ़ाने के लिये बजट में कई महत्वपूर्ण प्रावधान किये गये हैं. अगले पांच वर्षों में प्रदेश का बजट सात लाख करोड़ तक ले जाने का प्रयास है. डॉ. यादव ने कहा कि गंभीर डेम में पाईप लाइन के माध्यम से मां नर्मदा का पानी भरा जायेगा. इसी प्रकार यशवंत सागर बांध को भी पाईप लाइन के माध्यम से भरने का कार्य किया जायेगा. चंबल, पार्वती, कालीसिंध नदी के जल का उपयोग करने के लिये केन्द्र सरकार से 35 हजार करोड़ रुपये की राशि से कार्य योजना बनाई जा रही है, जिससे प्रदेश के कई जिलों को लाभ मिलेगा. बुंदेलखंड क्षेत्र में बेतवा नदी पर भी कई परियोजनाएं प्रारम्भ की जायेंगी.

प्रदेश में बनेंगे 6 नए एक्सप्रेस-वे
सीएम ने बताया कि प्रदेश में 6 नये एक्सप्रेस-वे बनाये जायेंगे. नये फोरलेन बनाये जायेंगे, पुराने मार्गों को दुरूस्त किया जायेगा, ताकि उद्योगों की स्थापना के लिये उचित दरों पर जमीन मिल सके. खदान आधारित उद्योगों के सरल आवागमन के लिये फोरलेन मार्ग बनाये जायेंगे. एयर टैक्सी की सुविधा प्रारम्भ की गई, ताकि कम समय में दूरस्थ क्षेत्रों की यात्रा की जा सके.

धार्मिक पर्यटन को दिया जाएगा बढ़ावा
मोहन यादव ने बताया कि प्रदेश में धार्मिक महत्व के पर्यटन को काफी बढ़ावा मिला है. एयर सेवा के माध्यम से प्रदेश के प्रमुख धार्मिक स्थलों की यात्रा सुगम हो सकेगी. इसके लिये हेलीकॉप्टर सेवा पूर्व में प्रारम्भ की गई है. आने वाले समय में 16 सीटर हेलीकॉप्टर से यात्रा प्रारम्भ की जायेगी, ताकि अधिक संख्या में लोग इसका लाभ ले सकें. जिला चिकित्सालय को डिसमेंटल करके नया अस्पताल बनाया जायेगा, जो सर्वसुविधायुक्त होगा. इसकी टेंडर की प्रक्रिया प्रारम्भ हो चुकी है.

उज्जैन आवागमन होगा सुगम
मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि उज्जैन आवागमन को सुगम बनाने के लिये हवाई मार्ग, रेल मार्ग और सड़क मार्ग को और सुदृढ़ बनाया जायेगा. जयपुर की तर्ज पर मूर्ति शिल्प का कारखाना उज्जैन में प्रारम्भ किया जायेगा. उज्जैन में सेवा निवृत्त लोगों के लिये सोसायटी बनाई जायेगी. पूजन सामग्री, भगवान की पोशाखें भी यहां बनाये जाने के लिये इकाई स्थापित की जायेगी.

Leave a Reply